Tuesday, 24 May 2016

आदत

Indian-Coffee-house-Jaipur
Indian Coffee House, Jawahar Kala Kendra, Jaipur.

क्या एक आम आदमी अपनी आदतों का गुलाम होता है?

वैसे हर इंसान का इन् आदतों के प्रति अपना अपना नज़रिया होता है। कुछ लोग किसि आदत को अच्छा कहेंगे तो कुछ उसी को बुरा। मगर कुछ आदतों पर समाज ने अच्छे और बुरे की मोहर लगा रखी हे ताकि समाज के ठेकेदारों का भी कारोबार चलता रहे।


आदत लत कब बन जाती हे, ये समझना बच्पन से ही मेरे लिए बहुत ही कठिन विषय रहा है। इस लिए इस विषय पर टिपणी देने का अधिकार शुरू से ही जाने अनजाने हमने अपने माताजी और पिताजी पे छोड़ दिया था। इस अधिकार का भरपूर आनंद उठाते हुए वे वक़्त - वक़्त पे हमें कुछ ना कुछ मशोहरा दे ही दिया करते थे। जैसे की जब हमने पीना शुरू किया था तब हमारी माताजी ने कहा था ये आदतें अछि नहीं। कुछ साल बाद माताजी ने एक दिन फिर कहा तुम्हें तो शराब की लत लग गयी है। फिर कुछ साल बाद हमारी शादी हो गयी हमारा एक नौ-निहाल भी हो गया, इस दौरान बीवीजी ने भी इस अधिकार के कुछ शेयर दाब लिये थे। कुछ दिन पहले यका यक माताजी और बीवीजी ने एक स्वर में बात चालू की, की ये शराब की आदत अच्छी नहीं तुम इसे छोड़ दो। खैर हमारे कभी कबार पिने का शौख कब आदत बना फिर कब लत और फिर कब आदत बन गया, ये समझना मेरे लिए थोडा कठिन था। मगर जब उन्होंने ये विषय चालू कर ही दिया था तो हमने भी पूछ लिया, की प्रभु गौतम बुध ने भी अपनी आदतों को छोडने की शुरुआत एक आदत छोड़ के की थी, कहें तो मैं भी वहीँ से शुरुआत करूँ? खैर बातचीत और मशहवरों का दौर कुछ और देर चला फिर पता नहीं कहाँ से कहाँ निकल गया।

अगले दिन मैं उठा, तैयार हो के, नाश्ता पानी कर के, घर से निकला और जवाहर कला केंदर के इंडियन कॉफ़ी हाउस मैं जा बैठा। एक कॉफ़ी का ऑडर भी दे दिया, कॉफ़ी आई और हमने पी भी ली। फिर हमें पिछली रात की बात चीत का ख्याल आया और हम सोच में पड़ गए। हमारे सामने सवाल ये खड़ा हो गया की जिस कृत की जानकारी घर पे होती हे उस पर तो हमें बिन मांगे भी टिपणी मिल जाती है। मगर जिन कृत्यों की जानकारी घर तक नहीं पहुँचती उस के बारे में विशेष टिपणी कौन करेगा? जैसे इंडियन कॉफ़ी हाउस में अक्सर आना, फिर यहाँ की कॉफ़ी का आर्डर करना और फिर वो "गन्दी" कॉफ़ी मुस्कुराते हुए पी जाना। ये आदत है, ये लत है या ये क्या है?

1 comment:

  1. Everyone is limited by his habit...not just a common person but even personas who have achieved great heights.Lovely write up! Thumbs up!

    ReplyDelete

Hello, Please Share Your Thoughts with Us. . .